न तो रंग गोरा और न फिगर से ठीक थी ये एक्ट्रेस फिर भी अभिनय में सिक्का जमा लिया,30 साल के करियर में ये काम नही किया

बॉलीवुड की अदाकारा काजोल ने 1992 में फिल्म ‘ बेखुदी ‘ से अभिनय की दुनिया में कदम रखा था।वहीं 30 साल के करियर में काजोल ने 51 से अधिक फिल्मों और सीरीज में अभिनय किया है ।90 दशक की अदाकारा ने जब सिनेमा जगत में एंट्री की तो उस दौरान गोरे रंग और अच्छे फिगर को खासा तवज्जो दी जाती थी। शायद काजोल ही एक ऐसी अभिनेत्री होंगी जो ना तो उनका रंग की साफ था और ना ही फिगर के लिहाज से ये फिट थी।इसके ना होते हुए भी उन्होंने अपने शानदार अभिनय से दर्शकों के दिलों में जगह बना ली। वहीं अदाकारा को लेकर एक और बात दिलचस्प चीज सामने आई है कि इन्होंने अपने करियर में कभी भी फूहड़ सीन नहीं फिल्माए।इसकी खास वजह काजोल ने खुद बताई है।

30 साल के लंबे फिल्मी करियर में काजोल ने बड़े पर्दे पर इंटिमेट और फूहड़ सीन करना बिल्कुल नहीं पसंद करती। हाल में ही इस बात का खुलासा उन्होंने नेटफ्लिक्स के एक शो इंडिया एक्टर्स राउंडटेबल 2023 में की है

Kajol accepted that she never done intimate scenes and also revealed reason of it

शो के दौरान अदाकारा ने बताया कि उन्होंने बड़े पर्दे पर फूहड़ सीन नहीं किए। अदाकारा का कहना था कि अपने 30 साल के फिल्मी करियर के दौरान उन्होंने कभी वो सीन नहीं अदा करें जिसमें वो खुद असहज महसूस करें।उनका ऐसा मानना है कि जब वो फिल्म की शूटिंग करती तो बतौर एक्टर उन्हें उस किरदार को बकायदा महसूस करना होता है।

काजोल उन सीन्स को फिल्माने से बचती है।जोकि उन्हें असहजता की ओर ले जाता है।उन्होंने कभी भी बड़े पर्दे पर अब्यूजिव सीन नहीं किए है। क्योंकि उनको ऐसा लगता है कि ऐसे सीन्स के साथ वो न्याय नहीं कर पाएगी। उन्हें एक्टिंग स्किल दिखाने के लिए 100 और भी नायब तरीके मिल जाएंगे।जहां पर वो खुद को उम्दा साबित कर सकती हैं।

काजोल ने बॉलीवुड में कई हिट फिल्में दी है।काजोल की अभिनीत ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ दर्शकों को खासा पसंद आई थी।इस फिल्म में काजोल ने सिमरन का किरदार निभाया था।शाहरुख के साथ काजोल की जोड़ी दर्शकों को बेहद पसंद आई थी।

Leave a Comment