मिथुन को इंडस्ट्री में पहचान इस फिल्म से मिली थी , जाने और भी दिलचस्प तथ्य

Mithun got recognition in the industry from this film:बॉलीवुड इंडस्ट्री से ताल्लुक रखने वाला एक सितारा जिसे कभी मेकर्स ने कहा था कि तुम हीरो तो नहीं बनने वाले, बनो तो मुझे जरूर बताना। वो एक्टर जिसने अपनी पहली फिल्म से नेशनल अवार्ड अपने नाम दर्ज कर लिया।

Mithun got recognition in the industry from this film: मिथुन को 2 साल तक कोई फिल्मी ऑफर नहीं मिला। साल 1982 में अभिनेता ने एक फिल्म से रातों-रात पूरी इंडस्ट्री को अपने शानदार हिला कर रख दिया। अभिनय की दुनिया में इक्का दुक्का फिल्मों के बाद अपना सिक्का जमा लिया था। इस ब्लॉकबस्टर फिल्म में राजेश खन्ना के होते हुए भी इस एक्टर ने फिल्म सारी सफलता का श्रेय अपने नाम दर्ज कर लिया।

इसी कड़ी में बताते चले कि मिथुन चक्रवर्ती ने साल 1977 में मृग्या से अभिनय की दुनिया में कदम रखा था।वहीं करियर की पहली फिल्म से ही उनको इंडस्ट्री में एक अलग पहचान मिल गई थी। हालांकि अभी मंजिल मिलनी बाकी थी। जिसके वो असल में हकदार थे। वो मुकाम अभिनेता को 1982 में मिला था।

बता दे बी सुभाष के निर्देशन तले बनी ब्लॉकबस्टर फिल्म डिस्को डांसर ने मिथुन को रातों रात नाम और शोहरत दिलाई थी। ये 100 करोड़ कमाने वाली पहली फिल्म के रूप में सामने आई। मिथुन को इस बात पर यकीन नहीं हो रहा था कि उनकी अभिनीत फिल्म की इतनी जबरदस्त कमाई हुई है।

इस फिल्म ने मिथुन के फिल्मी करियर को चमका दिया। इस फिल्म के जरिए अभिनेता देश ही नहीं विदेशों में भी बतौर अभिनेता के रूप में कामयाब हो गए। वही इतने ऊंचाइयों पर पहुंचने से पहले इन्होंने तमाम फ्लॉप फिल्मों का भी मुंह देखा था। कठिन संघर्ष के बाद वो इस मुकाम पर पहुंचे थे।

अभिनय की दुनिया में कदम रखने से पहले मिथुन को लुक के चलते भी कुछ मेकर्स फिल्मों का काम देने से मना कर दिया था। बता दें किपर्दे पर अतरंगी एक्शन और आम भाषा के डायलॉग्स ने मिथुन चक्रवर्ती को आम आदमी का हीरो बनाया था। अभिनय की दुनिया में बेशुमार नाम कमाने से पहले अभिनेता ने मुंबई की गलियों में खासा धूल फांकी है।

बॉलीवुड अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती एक्टिंग, कहानी और परफेक्शन से कहीं अधिक किस्मत में भरोसा रखते हैं। इन्होंने अपने एक पुराने इंटरव्यू में स्वीकारा था कि अगर वो इस बड़े मुकाम तक पहुंच पाए हैं तो इसके पीछे महज किस्मत का हाथ है। उनका खुद का मानना है कि एक्टिंग दिखाने का मौका भी किस्मत से ही मिलता है। अगर किस्मत ना होती तो एक्टिंग भी कुछ नहीं कर सकती है।

मिथुन ने अपने फ़िल्मी करियर में काफी उतार-चढ़ाव देखा है साल 1989 में अभिनेता ने एक साल में 17 फिल्मों में अभिनय करके राजेश खन्ना जैसे बड़े सितारे को टक्कर दी थी वही एक दौर वो भी आया जब उनको घर चलाने के लिए बी ग्रेड फिल्मों में काम करने की नौबत आ गई थी।

Leave a Comment